Chhattisgarh
Trending

सिविल सोसाइटी शहर के ट्रैफिक सुधारने के लिए प्रशासन के साथ आएं: डॉ गौरव सिंह

3 / 100

जिले में चल रहे सड़क सुरक्षा माह के समापन कार्यक्रम में कलेक्टर डॉ गौरव सिंह और एसपी श्री संतोष सिंह शामिल हुए। उन्होंने इस माह में यातायात जागरूकता के लिए उत्कृष्ठ कार्य करने वाले संस्था और आयोजित किए गए विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेता विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया।

कलेक्टर डॉ गौरव सिंह ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम तबतक सिर्फ आयोजन के रूप में याद रखें जाते हैं। अक्सर यह देखा जाता है कि जबतक कोई परिचित या अन्य दुर्घटना का शिकार न हो, तभी हम सब यातायात के नियमों को याद करते हैं। हो सकता कुछ दिन पालन भी करें लेकिन मानवीय प्रवृत्ति के कारण हम भूल भी जाते हैं, लेकिन चाहिए कि हम सब सड़क नियमों का पालन करें और दूसरों को भी प्रेरित करें। कलेक्टर ने कहा कि कई सड़क दुर्घटना के कारण अधोसंरचना में कमी होना है। प्रशासन निरंतर इस दिशा में प्रयासरत रहता है और सुधार कार्य करते रहते हैं मगर बात यहीं तक सीमित नही है। एक आम नागरिक की जिम्मेदारी बनती है कि शासकीय संपत्ति की अधोसंरचना की सुरक्षा करें और उसे बचाए रखें।  

Related Articles

उन्होंने कहा कि हम तय कर लें कि हमारे घर कोई अतिथि दुपहिया वाहन में आता है तो हम तुरंत उन्हें उनकी हेलमेट की याद दिलाएं। हम यदि स्वयं घर से निकले या कोई परिजन निकल रहे तो उनसे भी हेलमेट पहनने का आग्रह करें। यह याद रखें कि चाहे हमें कितनी दूरी जाना हो, किसी भी भुमिका मे हो। हर व्यक्ति को हमेशा सड़क यातायात नियमों को ध्यान में रखते हुए हेलमेट अवश्य पहनें। हम एक दूसरे को याद दिलाते रहें तो एक चेन बन जाएगी और पूरा समाज जागरूक होगा। उन्होंने सिविल सोसायटी से आहवान करते हुए कहा कि वे सुझाव दे कि रायपुर शहर का ट्रैफिक कितना अच्छा हो सकता है, क्या सुधार कर सकते है ताकि हमारा शहर पूरे देश में यातायात के क्षेत्र में एक नजीर के रूप में याद किया जा सके।

एसपी श्री संतोष सिंह ने कहा कि गतवर्ष के तुलना में सड़क दुर्घटनाओं के मौतों में अवश्य कमी आई हो मगर दुर्घटनाओं में वृद्धि हुई है। हम पहले सड़क सप्ताह मनाते थे। फिर पखवाड़ा अब माह मनाने लगे और आने वाले समय में वर्ष मनाने की आवश्यता पड़ेगी। वास्तव में यातायात सप्ताह के प्रति निरंतर जागरूक रहने की आवश्यकता है। उन्होंने विदेशों में यातायात नियमों का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि हम सब नागरिक यातायात नियमों के प्रति जागरूक हों और दिनचर्या में शामिल करें। यातायात के बेसिक नियम हेलमेट, सीट बेल्ट, नशें में वाहन न चलाना इत्यादि का पालन करें। यह याद रखें हम सभी को ट्रैफिक नियमों का पालन करना है तभी सड़क दुर्घटनाओं में कमी आएगी। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ श्री विश्वदीप तथा अन्य पुलिस अधिकारी और एनजीओ के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Naaradmuni

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button