Madhya Pradesh
Trending

‘डॉक्यूमेंट विजन’ नाम से हुई बैठक, विधायक हुए शामिल….

8 / 100

दमोह विधायक और प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया ने बताया कि विजन डॉक्यूमेंट के अनुसार जिले भर के लोगों से सुझाव मांगे जा रहे हैं, जिनकी फाइल तैयार की जाएगी और कलेक्टर के माध्यम से यह फाइल शासन को जाएगी।

दमोह जिले में आगामी पांच वर्षों में किए जाने वाले कार्यों को लेकर गुरुवार को दमोह जिला कलेक्ट्रेट सभागार में डॉक्यूमेंट विजन नाम से बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में पथरिया विधायक और पशुपालन राज्य मंत्री लखन पटेल के साथ संस्कृति मंत्री धर्मेंद्र सिंह और दमोह, पथरिया विधायक के अलावा जिले भर के प्रमुख लोग शामिल हुए। बैठक में कलेक्टर, एसपी भी मौजूद रहे।

जनता ने बैठक में मौजूद लोगों से दमोह मोहल्ले के विकास के लिए सुझाव मांगे। मंत्री लखन पटेल ने लोगों से कहा कि आप सभी बताएं कि आपका क्षेत्र कैसा होना चाहिए। अगले पांच वर्षों में दमोह में क्या विकास कार्य किए जाने चाहिए। लोगों ने मौजूद जनप्रतिनिधियों को अपने सुझाव दिए। किसी ने कृषि को लाभ का धंधा बनाने के लिए जिले भर में सिंचाई परियोजनाएं लागू करने की बात कही तो किसी ने यातायात के लिए सड़क और पुलिया बनाने की बात कही। लोगों ने अपने क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जनप्रतिनिधियों को बताया, जिसे कलेक्टर दमोह सुधीर कोचर ने रिकार्ड किया। दमोह विधायक एवं प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया ने कहा कि विजन डॉक्यूमेंट के अनुसार जिले भर के लोगों से सुझाव मांगे जा रहे हैं, जिसके लिए फाइल तैयार कर कलेक्टर के माध्यम से यह फाइल शासन को जाएगी। इसके बाद कैबिनेट में प्रस्ताव को मंजूरी दी जाएगी और बस्ती के सभी विकास कार्य कराए जाएंगे। जबेरा विधायक एवं संस्कृति मंत्री धर्मेंद्र सिंह लोधी ने कहा कि दमोह जिला पर्यटन और संस्कृति में काफी आगे है। क्षेत्र में काफी संभावनाएं और काम हैं, जिसकी शुरुआत बांदकपुर जागेश्वरनाथ धाम में 100 करोड़ रुपए की योजना में कॉरिडोर के निर्माण से हो रही है।

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button