ChhattisgarhRaipurState
Trending

राष्ट्रीय खेलों में भाग लेने वाली टीमों के खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों एवं प्रबंधकों को भी किया पुरस्कृत…..

11 / 100

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि राज्य में खेलों के लिए अच्छा माहौल बनाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। नई खेल अकादमियाँ शुरू हो रही हैं। खिलाड़ियों के खेल कौशल को बेहतर बनाने के लिए विश्व स्तरीय प्रशिक्षण आयोजित किया जाता है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक दिवस पर अपने निवास पर आयोजित खिलाड़ियों के सम्मान समारोह में इस आशय के विचार व्यक्त किये। इस अवसर पर उन्होंने गुजरात में आयोजित 36वें राष्ट्रीय खेलों में पदक जीतने वाले राज्य के खिलाड़ियों को सम्मानित किया। कार्यक्रम में इन खेलों में भाग लेने वाले खिलाड़ियों, कोचों और टीम मैनेजरों को भी सम्मानित किया गया। समारोह में छत्तीसगढ़ हाउसिंग बोर्ड के अध्यक्ष श्री कुलदीप जुनेजा, महासचिव छत्तीसगढ़ ओलंपिक एसोसिएशन श्री देवेन्द्र यादव, पूर्व महापौर रायपुर नगर निगम श्री गजराज पगारिया और छत्तीसगढ़ ओलंपिक एसोसिएशन के पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

समारोह में बोलते हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि खेलों के माध्यम से जहां खिलाड़ियों को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिल रही है, वहीं हम सभी भी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। आप सभी छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व करने के साथ-साथ हमें गौरवान्वित भी करते हैं। गुजरात में आयोजित 36वें राष्ट्रीय खेलों में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों और राज्य के लिए पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को बधाई। मुख्यमंत्री ने 64 व्यक्तिगत और टीम पदक विजेताओं, विभिन्न खेलों के 89 अन्य खिलाड़ियों और 38 कोच-प्रबंधकों को सम्मानित किया।

Related Articles

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि राज्य में खेलों के विकास और खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए अच्छा माहौल बनाया जा रहा है। किसी भी क्षेत्र में सफलता के लिए संगठित प्रयास और अनुकूल वातावरण की आवश्यकता होती है। वर्तमान में राज्य में 21 अकादमियाँ हैं, जिनमें दो आवासीय अकादमियाँ भी शामिल हैं। इनकी संख्या बढ़नी चाहिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है. अगर नारायणपुर के बच्चे मलखंभ में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी जगह बना सकें तो कुछ भी असंभव नहीं है। छत्तीसगढ़ के खिलाड़ी एशियन गेम्स, ओलम्पिक, कॉमनवेल्थ और नेशनल गेम्स में लगातार भाग लेते हैं।

कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ ओलंपिक एसोसिएशन के महासचिव श्री देवेन्द्र यादव ने कहा कि राज्य के खिलाड़ियों में भरपूर प्रतिभा और ऊर्जा है। यहां के खिलाड़ी लगातार राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अपना हुनर दिखाते रहते हैं। प्रदेश की खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए हमें सुव्यवस्थित ढंग से अच्छा इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करना होगा। 14-15 वर्ष की आयु में खिलाड़ियों की पहचान कर उनके कौशल में व्यवस्थित रूप से सुधार करना होगा। राज्य के सभी संभागीय मुख्यालयों में उपलब्ध खेल सुविधाओं का विस्तार दूरस्थ क्षेत्रों के बच्चों के लिए करना होगा। श्री यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री ने 36वें राष्ट्रीय खेल के पदक विजेताओं, प्रतिभागी खिलाड़ियों और कोचों के लिए कुल 16 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की है.

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button