Madhya Pradesh
Trending

सीएम राईज स्कूल में शैक्षणिक गुणवत्ता सुधार के लगातार प्रयास हो….

3 / 100

स्कूल शिक्षा मंत्री श्री उदय प्रताप सिंह ने कहा है कि सीएम राईज स्कूल प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। इन स्कूलों में शैक्षणिक गुणवत्ता में लगातार सुधार के प्रयास किये जाते रहना चाहिए। उन्होंने योजना में तय समय-सीमा में स्कूल संचालन की व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये। बैठक में प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती रश्मि अरूण शमी और आयुक्त स्कूल शिक्षा श्रीमती अनुभा श्रीवास्तव भी मौजूद थीं।

सीएम राईज स्कूल भवन निर्माण

Related Articles

बैठक में बताया गया की प्रदेश में 275 सीएम राईज स्कूल भवनों का निर्माण 9 हजार 641 करोड़ रूपये की लागत से किया जा रहा है। सीएम राईज स्कूल भवन निर्माण में 6 एजेंसी जुड़ी हुई है। लोक निर्माण विभाग का पीआईयू 129 भवनों का निर्माण करीब 4 हजार 409 करोड़ रूपये की लागत से कर रहा है। मंत्री श्री सिंह ने स्कूल शिक्षा विभाग की टेक्नीकल बिंग से भवन निर्माण की लगातार निगरानी किये जाने के भी निर्देश दिये।

शिक्षकों और विद्यार्थियों के व्यक्तित्व विकास पर जोर

बैठक में बताया गया कि सीएम राईज स्कूल की कार्ययोजना के क्रियान्वयन में 3 कंसल्टेंट एजेंसियाँ भी मदद कर रही है। यह एजेंसियाँ शिक्षकों के नेतृत्व विकास, पढ़ाने की नवीन विधा और विद्यार्थियों के व्यक्तित्व विकास में मदद कर रही है। बैठक में शैक्षणिक सत्र 2022-23 में परीक्षा परिणाम पर भी चर्चा की गई। बैठक में बताया गया कि इन स्कूलों में विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम अन्य विद्यालयों की तुलना में बेहतर आया है। कक्षा 10 और 12 की बोर्ड परीक्षा की मेरिट सूची में सीएम राईज स्कूल के 5 विद्यार्थियों ने स्थान पाया है। सीएम राइज स्कूल योजना को प्रतिष्ठित स्कॉच अवॉर्ड प्राप्त हुआ है। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप लगभग 7 हजार शिक्षकों को आकदमिक प्रशिक्षण दिलाया गया। इसके साथ ही सृजन कार्यक्रम में 60 हजार से अधिक अभिभावकों की सहभागिता सुनिश्चित की गई।

शैक्षणिक कैलेण्डर का विमोचन

स्कूल शिक्ष मंत्री श्री सिंह ने आज मंत्रालय में स्कूल शिक्षा विभाग और सीएम राइज स्कूल की गतिविधियों पर केन्द्रित कैलेण्डर का विमोचन किया। कैलेण्डर के माध्यम से सुपर 100 योजना, डिजिटल साक्षरता, पीएमश्री स्कूल, सीएम राइज स्कूल, स्कूल बैण्ड, उमंग और अनुगूंज कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी गई है।

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button