Madhya Pradesh
Trending

45 लाख 59 हजार लाड़ली बहनों को उज्जवला योजना की 118 करोड रुपए की अनुदान राशि का अंतरण….

7 / 100

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं को देशभक्ति के लिए प्रेरित करने और सेना में नई ऊर्जा लाने के लिए शुरू की गई अग्निवीर योजना में प्रदेश के युवाओं को चयनित कराने के लिए प्रति बैच 360 घंटे का निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह बात मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव मुरैना में रोजगार दिवस के अवसर पर राज्य स्तरीय रोजगार दिवस समारोह में कही। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि प्रशिक्षण में युवाओं को गणित, भौतिकी, रसायन विज्ञान और सामान्य अध्ययन जैसे विषयों की कोचिंग दी जाएगी। इससे युवाओं को अग्निवीर योजना में चयन में मदद मिलेगी। अग्निवीर सहित शासन की विभिन्न योजनाओं से मिले रोजगार और स्वरोजगार से युवाओं के जीवन में नव सुख जीवन का सूरज उदय होगा।

नदी से नदी जोड़कर बहेगी विकास की धारा

Related Articles

मुख्यमंत्री डॉ यादव ने पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा शुरू की गई महत्वाकांक्षी योजना नदी जोड़ो परियोजना का जिक्र करते हुए बताया कि नदी से नदी को जोड़कर गांव-गांव तक विकास की धारा बहाने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई थी। मध्य प्रदेश और राजस्थान को भी इस परियोजना का लाभ मिलना था लेकिन पिछली सरकारों ने इसे लागू नहीं किया। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में मध्यप्रदेश और राजस्थान द्वारा संयुक्त रूप से पार्वती, काली सिंध, और चंबल नदी को जोड़ने का महाअभियान प्रारंभ हुआ हैं। प्रदेश के 12 और राजस्थान के 13 जिलों का विकास इस परियोजना के तहत होगा। किसानों को पीने और सिंचाई का पानी उपलब्ध होगा। इससे क्षेत्र में विकास होगा और समृद्धि आएगी।

किसानों को 56 करोड़ लौटाएंगे और नई फैक्ट्री लगवाएंगे

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि किसानों और मजदूरों को उनका हक मिलेगा। मुरैना में बंद पड़ी शुगर फैक्ट्री के संदर्भ में उन्होने कहा कि किसानों का 56 करोड़ बकाया उन्हें लौटाया जायेगा। नई फैक्ट्री लगवाएंगे। इसी तरह जैसे जेसी मिल्स ग्वालियर का पैसा भी मजदूरों को लौटाएंगे। किसानों और मजदूरों को कोई परेशान करे यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने छत्तीसगढ़ में हुए नक्सली हमले में भिंड के सीआरपीएफ के जवान श्री पवन भदौरिया के कर्तव्य की बलिवेदी पर बलिदान पर श्रदापूर्वक नमन किया। उन्होंने कहा कि जान की बाजी लगाकर जो शूरवीर धरती मां को गौरवान्वित करते है वह समूची संस्कृति में पूजे जाते हैं। उनके बलिदान को जीवन भर स्मरण किया जाएगा।

चंबल की धरती ने बढ़ाया सनातन संस्कृति का मान-सम्मान

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा की भारतीय सनातन संस्कृति लगातार आगे बढ़ने की संस्कृति है। सर्वे भवन्तु सुखिनः – सर्वे सन्तु निरामयाः की भावना के साथ सबका कल्याण चाहते हुए अपने परिवार, कुटुंब और देश को आगे बढ़ने का संस्कार हमारी संस्कृति में है। कुटुंब परंपरा का पालन करते हुए अपनी जरूरत और सपना पूरा करने के साथ ही कुछ बचत भी हम रखते हैं। इसी कारण से हम दुनिया, हर काल में, हर युग में समृद्ध हैं, सुसंस्कृत है और सभी को सुखी संपन्न दिखाई देते है। इसी संस्कृति की महानता के कारण हम कई विदेशी आक्रांताओं की आंखों में खटकते रहे हैं। इतिहास में जब मौका मिला विदेशी आक्रांता हमे लूटने आए। लेकिन इस बात का गर्व है की चंबल के वीर बहादुर सिपाहियों के बलबूते पर हजारों वर्षों से हर काल में और हर युग में हर बार हमने मुंह तोड़ जवाब दिया। कभी झुके नहीं, कभी रुके नहीं, कोई बाधा हमें रोक नहीं सकी। जब भी मौका मिला है चंबल की धरती ने सनातन संस्कृति का मान और सम्मान बढ़ाया है।

विधानसभा अध्यक्ष श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि रोजगार दिवस के अवसर पर प्रदेश के युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराने का यह कार्यक्रम अनुकरणीय है। कार्यक्रम के माध्यम से युवाओं के जीवन में नया सवेरा होगा। अध्यक्ष श्री तोमर ने कार्यक्रम के लाभार्थी नौजवानों को बधाई दी और उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। 

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की रोजगार की गारंटी को पूरा करने की शुरुआत की। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने प्रदेश के 7 लाख से अधिक युवाओं को एक दिन में 5151 करोड़ 18 लाख 90 हजार रूपए की ऋण राशि के स्वीकृति पत्र प्रतीकात्मक रूप से प्रदान किया। यह अवसर अभूतपूर्व है जब एक दिन में 7 लाख लोगों के हाथों को काम मिला। 

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने मुरैना में 88 करोड़ 79 लाख रुपए की लागत के 53 विकास कार्यों का वर्चुअल लोकार्पण एवं पूजन किया। जिसमें अंबा विकासखंड में थरा में 6 करोड़ 52 लाख रुपए, कमतरी में 6 करोड़ 29 लाख रुपए, विकासखंड पोरसा में रठा में 53 लाख रुपए, कसरंडा में 87 लाख रुपए, विकासखंड मुरैना में बंधा में 1 करोड़ 41 लाख रुपए, जैतपुर चंबल में 81 लाख रुपए, हिगोनाकला में 2 करोड़ 75 लाख रुपए, हिगोनाखुर्द में 2 करोड़ 12 लाख रुपए, जतावर में 2 करोड़ 24 लाख रुपए, कैथोडा में 2 करोड़ 89 लाख रुपए, खेदा मेवदा में 4 करोड़ 15 लाख रुपए, पिपरसेवा में 1 करोड़ 28 लाख रुपए, देवरी में 76 लाख रुपए, गलेथा में 3 करोड़ 53 लाख रुपए से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण किया। 

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने 45 लाख 59 हजार लाड़ली बहनों के खाते में उज्जवला योजना और गैर उज्जवला योजना के अंतर्गत सितंबर और अक्टूबर माह की 118 करोड रुपए की अनुदान राशि का सिंगल क्लिक के माध्यम से अंतरण किया गया।

कार्यक्रम में केन्द्र और राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं में युवाओं को स्वरोजगार स्थापना के लिए ऋण दिलवाया गया। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में सर्वाधिक 6 लाख 32 हजार 574 युवाओं को 4510 करोड़ से अधिक का ऋण वितरित किया गया। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के 13 हजार 812 समूहों को 380 करोड़ 71 लाख, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में 67 हजार 166 हितग्राहियों को 113 करोड़ 44 लाख, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन में 943 व्यक्तियों को 12 करोड़ 87 लाख से अधिक, 79 समूह को एक करोड़ 77 लाख तथा 689 समूहों को क्रेडिट लिंकेज में 13 करोड़ 47 लाख 91 हजार रूपये की वित्तीय सहायता दी गई।

इसी तरह प्रधानमंत्री सृजन कार्यक्रम में 905 व्यक्तियों को 56 करोड़ 60 लाख, मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना में 802 युवाओं को 54 करोड़ 44 लाख, संत रविदास स्वरोजगार योजना में 62 को 2 करोड़ 41 लाख 36 हजार, डॉ. अंबेडकर आर्थिक कल्याण योजना में 65 को 13 लाख 35 हजार, सावित्री बाई फुले सहायता योजना में 18 युवाओं को 97 लाख 5 हजार, भगवान बिरसा मुंडा स्वरोजगार योजना में 61 को 2 करोड़ 12 लाख 4 हजार, टंट्या मामा आर्थिक कल्याण योजना में 93 को 43 लाख 73 हजार, मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक उद्यम तथा स्वरोजगार योजना में 27 युवाओं को एक करोड़ 16 लाख 70 हजार और मुख्यमंत्री विमुक्त, घुमन्तु और अर्द्धघुमन्तु स्वरोजगार योजना में 9 व्यक्तियों को 5 लाख 89 हजार का ऋण प्रदाय किया गया।  

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने शासन की विभिन्न योजनाएं की लाभार्थी हितग्राहियों से संवाद किया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने छतरपुर की श्रीमती राजकुमारी अहिरवार, अनूपपुर की सुश्री ज्ञानवती सिंह श्याम, बड़वानी की श्रीमती योगिता पाटीदार और दमोह की श्रीमती पूजा यादव से संवाद किया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने योजना का लाभ लेकर रोजगार और स्वरोजगार के अवसर उत्पन्न करने के लिए धन्यवाद दिया और उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने शासन की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत विभिन्न हितग्राहियों को प्रतीकात्मक  हितलाभ का भी वितरण किया

कार्यक्रम में रोजगार दिवस पर आधारित लघु फिल्म का प्रदर्शन किया गया। फिल्म में प्रधानमंत्री श्री मोदी के निर्देशन में प्रदेश के युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार से जोड़कर आत्मनिर्भर बनाने के प्रयासों को रेखांकित किया गया। 

नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री राकेश शुक्ला, किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री ऐदल सिंह कंषाना, सचिव सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम श्री पी. नरहरि सहित जनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button