Chhattisgarh
Trending

कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी ने स्टॉलों का किया निरीक्षण, दिव्यांगजनों के बस पास बनाने के दिये निर्देश……

5 / 100

कलेक्टर सुश्री नम्रता गांधी ने आज कम्पोजिट भवन के पास आयोजित ’निदान’ कार्यक्रम में पहुंचकर दिव्यांगजनों से चर्चा की और उन्हें मिल रही शासन की योजनाओं की जानकारी ली। इस मौके पर उन्होंने कार्यक्रम स्थल में लगे अन्य विभागों के स्टॉलों का भी निरीक्षण किया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। इस मौके पर कलेक्टर ने दिव्यांगजनों को निःशुल्क बस पास प्रदान करने के लिए यातायात विभाग के अधिकारियां को निर्देशित किया। गौरतलब है कि जिला प्रशासन एवं महावीर दिव्यांग सहायता समिति के संयुक्त तत्वावधान आज से 15 फरवरी तक ’’निदान’’ कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम में दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण, यूडीआईडी कार्ड बनाने सहित शासन की अन्य योजनाओं से लाभान्वित किया जा रहा है। आज पहले दिन 85 दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग, कैलिपर्स, सहायक उपकरण, मापन, वितरण, यूडीआईडी कार्ड का कार्य किया  गया।

कैलिपर्स मिलने से चंचल अब सपनों को करेगी पूरा

Related Articles

निदान कार्यक्रम में आये दिव्यांगजनों को कैलीपर्स लगाये गये। इस शिविर में आयी कुमारी चंचल सोनी ने बताया कि बचपन से ही उसका दायां पैर नहीं है, लेकिन उसने कभी भी हार नहीं मानी। जीवन में आने वाली परेशानियां का डटकर मुकाबला किया। अभी वह एडजेक्ट फाउंडेशन दिव्यांग आवासीय विद्यालय में रहकर कक्षा 11 वीं की पढ़ाई कर रही है। चंचल की हिम्मत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि, जिस काम को करने के लिए सामान्य व्यक्ति बार-बार सोचता है, उसे चंचल ने अपनी जिद से पूरा कर किया हैं। चंचल बताती है कि उसने वर्ष 2022 में स्टीक की सहायता से हिमालय की चोटी पर चढ़ाई की है, जिसकी ऊंचाई 5363 है। वहीं वह एक अच्छी नृत्यांगन है, वह कई बार स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में अपनी प्रस्तुति दे चुकी हैं और वह एक ही पैर से नृत्य करती है। उसने कहा कि अब कैलिपर्स लग जाने से उसे चलने-फिरने में कोई दिक्कत नहीं होगी। वहीं अब वह अपने सपनों को पूरा कर सकेगी। दिव्यांगजनों की मदद हेतु आयोजित ऐसे निदान कार्यक्रम आयोजित करने के लिए चंचल ने जिला प्रशासन का धन्यवाद किया है।
 

’निदान’ कार्यक्रम से ज्योति की समस्या का होगा निदान

ग्राम बेलतरा की रहने वाली कुमारी ज्योति ध्रुव की समस्या का निदान अब हो गया है। ज्योति के पिता श्री भारत ध्रुव ने बताया कि बचपन से ही ज्योति को सुनने की समस्या है। इसी समस्या की वजह से उसने कक्षा 9 वीं तक पढाई कर पायी। ज्योति के पिता ने कहा कि पढ़ाई करने के लिए जब ज्योति स्कूल जाती थी, उसे कुछ सुनाई नहीं देता था, इस कारण वह पढ़ाई में भी कमजोर हो गयी। उन्होंने बताया कि निदान शिविर के जरिये उनकी बेटी ज्योति को श्रवण यंत्र मिल जाने से अब वह आगे की पढ़ाई जरूर करेगी और एक दिन स्वयं अपने पैरों पर खड़ी होगी। भारत ध्रुव ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि अब मेरी बेटी भी अन्य बच्चों की तरह खेल-कूद कर सकेगी। वहीं दूसरों की बातों को समझकर उसका जवाब भी दे पायेगी। इसके लिए उन्होंने जिला प्रशासन का धन्यवाद किया है।
144 दिव्यांगजनों का किया गया पंजीयन और 85 को वितरित किये गये सहायक उपकरण
 
निदान कार्यक्रम के पहले दिन कुल 144 दिव्यांगजनों का पंजीयन किया गया, जिसमें से 33 दिव्यांगजनों को ट्रायसायकिल, 12 को व्हीलचेयर, 16 को श्रवण यंत्र, 19 को कृत्रिम हाथ-पैर, 5 को बैसाखी वितरित किया गया। साथ ही 25 लोगों का यूडीआईडी कार्ड और दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाकर प्रदाय किया गया।

’निदान’ कार्यक्रम में समाज कल्याण विभाग के अलावा अन्य विभागों के द्वारा भी स्टॉल लगाकर शासन की योजनाओं से लाभान्वित किया गया। इनमें श्रम विभाग द्वारा श्रम कार्ड, नवीनीकरण, योजना आवेदन पंजीयन, स्वास्थ्य विभाग द्वारा सामान्य स्वास्थ्य परीक्षण, सिकलसेल परीक्षण, खाद्य विभाग द्वारा राशन कार्ड नवीनीकरण, मोबाइल नंबर अपडेशन तथा जिला अग्रणी बैंक द्वारा अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना संबंधी स्टॉल शामिल है।
  उप संचालक समाज कल्याण ने बताया कि ’’निदान ’’ कार्यक्रम का आयोजन आगामी 15 फरवरी तक सुबह 10 से शाम 5  बजे तक कलेक्टोरेट के पास स्थित कम्पोजिट भवन स्थित जिला दिव्यांगजन पुनर्वास केन्द्र में आयोजित किया जायेगा, जहां पंजीयन के लिये दिव्यांगजनों को फोटो, दिव्यांग प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र से संबंधित दस्तावेजों की छायाप्रति लाने कहा गया है। इसके अलावा बैटरी, चार्जर, रिपेयरिंग, रिप्लेसमेंट की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि समाज कल्याण विभाग द्वारा पूर्व में वितरित किये गये मोटराईज्ड ट्रायसायकल (बैटरी चलित) की खराब हो चुकी बैटरी एवं चार्जर का रिप्लेसमेंट का चिन्हांकन किया जायेगा, जिसके लिये दिव्यांग हितग्राही को अपना खराब बैटरी, चार्जर को शिविर में लेकर आना होगा तथा अंतिम दिवस 15  फरवरी को रिप्लेसमेंट कर वितरण किया जायेगा।

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button