ChhattisgarhStateSurguja
Trending

समूह की महिलाओं ने वर्मी कम्पोस्ट की बिक्री से 2 लाख रुपये की की आय….

10 / 100

नए उत्साह और नई ऊर्जा से लबरेज उद्यमियों को ग्रामीण औद्योगिक पार्क से पंख मिले हैं। सरकार की RIPA योजना ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं और समूह उद्यमियों के चेहरों पर विकास की रोशनी लाती है। छोटे व्यवसायों को समर्थन देने की यह सार्थक पहल कारगर साबित हो रही है। डोंगरगढ़ विकासखंड के कालकासा गांव के रिपा गौठान में बेहतरीन अधोसंरचना का निर्माण किया गया है. हर्बल शीतल पेय इकाई, बढ़ई इकाई, फल आइसक्रीम इकाई, नमकीन उद्योग, गोबर पेंट निर्माण, अगरबत्ती निर्माण, सिलाई इकाई के लिए कार्यशालाएँ बनाई गईं।

इधर, जिला श्रम कार्यालय के नेतृत्व में रीपा ने तीव्र गति से आकार लिया। सखी समूह की महिलाओं ने जूस और आइसक्रीम बनाने का काम शुरू किया। बेल, अमारी और आम के विशेष स्वाद वाले शरबत के साथ ही क्रीमी मिल्क आइसक्रीम और तेंदू आइसक्रीम की स्थानीय मांग है। तेंदू आइसक्रीम को एक नए तरीके से बनाया गया है जिसमें एक खास स्वाद है। सुश्री उषा नेताम ने कहा कि गर्मी के मौसम को देखते हुए यह कार्य शुरू किया गया है। जिससे अब तक लगभग आय हुई है। 17 हजार। खट्टे आमरी भाजी शर्बत बनाने का प्रशिक्षण दिया गया। ये सब्जियां ग्रामीण इलाकों में आसानी से मिल जाती हैं। उत्पाद स्थानीय रूप से उपलब्ध सब्जियों और तेंदू और अन्य सामग्री से बनाए जाते हैं। समूह की महिलाएं हिसाब-किताब में बचत करना सीखती हैं। सुश्री गीता बाई मंडावी ने कहा कि कुल्फी आइसक्रीम बनाने का प्रशिक्षण दिया गया है।

Related Articles

मशीन को मिक्स-सॉल्ट तैयारी समूह की महिलाओं द्वारा स्थापित किया गया था। जय मां दुर्गा स्वयं सहायता समूह की 10 महिलाएं मिलकर नमकीन बनाने का काम करती हैं। जिसमें रू0 6,00,000 की लागत से ड्राईंग मशीन, कंपाउंड सक्शन मशीन एवं ऑयल फिल्टर लगाया गया था। पल्स सैंडर भी उपलब्ध है। श्रीमती संतोषी उइके ने कहा कि यहां की सभी महिलाएं मिलजुल कर काम करती हैं। सुश्री माहेश्वरी ने कहा कि घर के पास ही नौकरी का अवसर मिला। अब आपको धूप में निकलने की जरूरत नहीं है। वर्कशेड में छाया में बैठकर वे सभी एक साथ काम करते हैं। अमीन माता स्वयं सहायता समूह की गुनी बाई ने बताया कि गोधन न्याय योजना के तहत यहां गोठान में 2359.38 क्विंटल गोबर की खरीद की गई. इससे किसानों व पशुपालकों को 4 लाख 71 हजार रुपये मिले। उन्होंने कहा कि वर्मी कम्पोस्ट की बिक्री से उन्हें 2 लाख रुपये की आय हुई है.

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button