Madhya PradeshState
Trending

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मुख्यमंत्री निवास पर मीना समाज के राज्य स्तरीय सम्मेलन किया संबोधित…..

8 / 100

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसी भी समाज की प्रगति से प्रदेश और देश की प्रगति भी स्वत: होती है। इसलिए प्रत्येक समाज को हर क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए सतर्क एवं सक्रिय रहना आवश्यक है। मध्य प्रदेश सरकार मीना समुदाय को विभिन्न क्षेत्रों में प्रगति के अवसर उपलब्ध कराएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मुख्यमंत्री निवास पर मीना समाज के राज्य स्तरीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान की घोषणाएँ

Related Articles

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मीना समाज के लिए जय मीनेश कल्याण बोर्ड का गठन किया जाएगा। इस बोर्ड में अध्यक्ष समेत चार सदस्य होंगे. चेयरमैन को मंत्री का दर्जा दिया जाएगा. मध्य प्रदेश की ओबीसी सूची में आवश्यक संशोधन किये जायेंगे। भोपाल में सोसायटी के निर्माणाधीन छात्रावास भवन का निर्माण सुनिश्चित किया जायेगा। भगवान मीनेष की जयंती पर ऐच्छिक अवकाश रहेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि टीआर आई रिपोर्ट केन्द्र सरकार को भेजी जायेगी, ताकि आवश्यक निर्णय लिया जा सके। मीना समाज को भी आवश्यक प्रतिनिधित्व दिया जायेगा।

समाज के युवा विभिन्न क्षेत्रों में सुविधाओं का लाभ उठाते हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मीना समुदाय को शिक्षा, कृषि, व्यवसाय, तकनीकी प्रशिक्षण और स्वरोजगार के क्षेत्र में आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध करायी जायेंगी। आज केवल कृषि कार्य पर निर्भर रहकर आजीविका आसानी से नहीं चल सकती। डेयरी व्यवसाय, सब्जी उत्पादन, फल उत्पादन आदि से आय बढ़ाना आवश्यक है। युवाओं का रुझान व्यवसाय और उद्योगों की ओर बढ़ना चाहिए। राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति के माध्यम से युवाओं को औद्योगिक इकाई स्थापित करने के लिए 50 लाख रुपये तक की राशि देने का प्रावधान किया है। इसके लिए ब्याज छूट और सरकारी गारंटी का लाभ भी मिलता है. 12वीं कक्षा उत्तीर्ण और स्नातक कर चुके युवाओं को सीको-कमाओ योजना के तहत विभिन्न औद्योगिक संस्थानों में प्रशिक्षण प्राप्त करने की सुविधा दी जा रही है। इन युवाओं को हुनर सीखने के साथ-साथ स्कॉलरशिप भी दी जाएगी.

किसानों को अधिकतम सुविधाएं दी गई हैं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि किसान-कल्याण योजना के माध्यम से बड़ी संख्या में लघु एवं सीमान्त किसानों को प्रतिमाह राशि मिल रही है। इसका लाभ मीना समाज सहित अन्य समाज के लोगों को भी मिल रहा है। खेती-किसानी से जुड़े लोगों को पहले लिए गए कर्ज के ब्याज से भी राहत देने का काम किया गया है। इतना ही नहीं, सिंचाई क्षेत्र में वृद्धि कर कृषि को लाभ का व्यवसाय बनाने की दिशा में भी मध्य प्रदेश में ठोस कार्य किया गया है। मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना के प्रावधानों में संशोधन कर ट्रैक्टर रखने वाले परिवारों को लाभान्वित करने की पहल की गई है। ये सभी योजनाएं निम्न-मध्यम वर्गीय परिवारों के लिए लाभकारी हैं। राज्य सरकार द्वारा एक लाख सरकारी नौकरियां देने का लक्ष्य पूरा होने पर 50 हजार नई भर्तियों की प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी.

प्रारंभ में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भगवान श्री मीनेश की पालकी को अपने सिर पर रखकर उन्हें मंच पर बैठाया। सम्मेलन की शुरूआत कन्या पूजन एवं दीप प्रज्वलन से हुई। समाज के सदस्यों द्वारा पुष्प वर्षा कर मुख्यमंत्री श्री चौहान का अभिनंदन किया गया। समाज के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व न्यायाधीश श्री लालाराम मीना, पूर्व मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीना, श्रीमती ममता मीना, पूर्व विधायक चाचौड़ा श्री जवाहर सिंह मीना, श्री जसवन्त मीना, श्री रणवीर रावत, श्री गणपत मीना, श्री संतोष मीना, भेरुन्दा पटेल की जिला अध्यक्ष श्रीमती मंजू, श्री रामसिंह मीना सहित जिलों से आये प्रतिनिधि एवं समाजजन बड़ी संख्या में उपस्थित थे। प्रारंभ में समाज की ओर से मुख्यमंत्री श्री चौहान को एक सुझाव पत्र सौंपा गया। सम्मेलन को पूर्व मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीना ने भी सम्बोधित किया।

jeet

Show More

Related Articles

Back to top button