Madhya Pradesh
Trending

कटंगी और पौंडी बनेंगे तहसील, पाटन हाईस्कूल का हायर सेकेण्डरी में होगा उन्नयन….

5 / 100

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कटंगी और पौंडी को तहसील बनाया जाएगा। शीघ्र ही इसके आदेश जारी कर दिए जाएंगे। पाटन जनपद मुख्यालय के हाईस्कूल को हायर सेकेण्डरी स्कूल के रूप में उन्नत किया जाएगा। श्री चौहान आज कटंगी-जबलपुर के महिला सम्मेलन में बहनों से संवाद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार ने बहन बेटियों को सरकार चलाने के सूत्र दिए हैं। उनकी जिन्दगी बदलने का अभियान जारी है। बहन-बेटियां आत्मविश्वास और सम्मान से जीवन जिये। हर स्तर पर उनके सहयोग और प्रोत्साहन के लिए योजनाएँ क्रियान्वित की गई हैं।

श्री चौहान ने कहा कि सवा करोड़ बहनों का प्यार और आशीर्वाद मिल रहा है। बहनों की राखियां स्नेह, प्यार और आत्मीयता का मजबूत बंधन है। लोक निर्माण मंत्री तथा जबलपुर जिले के प्रभारी श्री गोपाल भार्गव, सांसद श्री राकेश सिंह, पूर्व मंत्री श्री अजय विश्नोई, क्षेत्रीय विधायक तथा जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

पाटन में दो सीएम राइज स्कूल

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 548 करोड़ के विकास कार्यों का वर्चुअल भूमि-पूजन किया। इसके अंतर्गत 503 करोड़ रुपये की जबलपुर ग्रामीण समूह जल-प्रदाय योजना, 45 करोड़ 78 लाख रुपये से निर्मित होने वाले 19.80 कि.मी. लम्बे पाटन-पौंडी मार्ग तथा 10 लाख की राशि से निदान फाल का सौंदर्यीकरण कार्य शामिल हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पाटन में दो सीएम राइज स्कूलों का कार्य आरंभ हो गया है। प्रत्येक स्कूल के निर्माण पर 38 से 40 करोड़ रुपये का व्यय होगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान 27 अगस्त को मनाएंगे रक्षा-बंधन

मुख्यमंत्री श्री चौहान का सम्मेलन स्थल पहुँचने पर लोक नृत्य और गुदुमबाजा से स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री ने सम्मेलन में आयी बहन – बेटियों का पुष्प वर्षा कर स्वागत किया तथा कन्या-पूजन और दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान का जनप्रतिनिधियों ने विशाल पुष्प माला से स्वागत किया। लाड़ली बहना सेना ने प्रतिमाह एक हजार रुपये उपलब्ध कराने के लिए “धन्यवाद भैया जी” और स्व-सहायता समूह की दीदियों ने “लखपति दीदी बनाने के लिए शिवराज भैया का आभार” लिखी तख्तियाँ लहरा कर श्री चौहान का अभिवादन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान को बहनों ने राखियां भेंट कीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जल जीवन मिशन के अंतर्गत जल कलश यात्रा निकालने वाली बहनों को जल-संरक्षण और स्वच्छ पेयजल के उपयोग का जल संकल्प दिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि 27 अगस्त को दोपहर 1 बजे बहनों के साथ भोपाल में रक्षा-बंधन का कार्यक्रम होगा जिसमें बहनें अपने गाँव तथा वार्ड से शामिल होंगी।

बहन-बेटियों के दु:ख दर्द दूर करेंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हम सबने परिवारों में बेटा-बेटी के बीच के भेदभाव को देखा भी है और अनुभव भी किया है। बेटा-बेटी को बराबर माना जाए, बेटी को बोझ न समझा जाए, इस उद्देश्य से ही लाड़ली लक्ष्मी योजना लागू की गई, जिससे जो भी बेटी पैदा हो, वह लखपति हो। बेटियों की पढ़ाई के लिए उचित व्यवस्था और आर्थिक प्रोत्साहन की व्यवस्था की गई। बहनें पंचायतें और नगरीय निकाय चलाने में भूमिका निभाएं, इसलिए नगरीय और पंचायत राज निकायों में बहनों के लिए आरक्षण की व्यवस्था की गई। लाड़ली बहना योजना में बहनों को प्रतिमाह 1000 रुपये उपलब्ध कराये जा रहे हैं। इस राशि को बढ़ाकर 3000 रुपये किया जाएगा। हमारा प्रयास है कि स्व-सहायता समूहों से जुड़ी बहनों की आय 10 हजार रुपये प्रतिमाह हो। जब तक मैं बहन-बेटियों के दु:ख दर्द दूर नहीं कर दूंगा चैन से नहीं बैठूंगा।

मुख्यमंत्री जन आवास योजना में मिलेगा आवास

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारी सरकार लोगों की जिन्दगी बदलने का अभियान चला रही है। किसान परिवारों को केन्द्र सरकार से 6 हजार रुपये तथा राज्य सरकार से 6 हजार रुपये प्रति वर्ष उपलब्ध कराये जा रहे हैं। प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना में प्रदेश के हर जरूरमंद परिवार के लिए आवास की व्यवस्था की गई है। इस योजना में जिनका नाम नहीं होगा उन्हें मुख्यमंत्री जन आवास योजना में आवास उपलब्ध कराया जाएगा। बेहतर पढ़ाई की सुविधा के लिए सीएम राइज स्कूलों की व्यवस्था की जा रही है, जिनमें स्मार्ट क्लास रूम, लेब, लायब्रेरी, खेल मैदान और विशेषज्ञों से ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था होगी।

पढाई से आजीविका तक बेहतर व्यवस्था

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विद्यार्थियों के लिए बेहतर शिक्षा की व्यवस्था के साथ-साथ उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए अच्छे नम्बर आने पर लेपटॉप और कक्षा बाहरवीं में शाला में प्रथम आने पर स्कूटी उपलब्ध कराई जा रही है। मेडिकल, इंजीनियरिंग, प्रबंधन और विधि संकाय के प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों की फीस की प्रतिपूर्ति राज्य सरकार द्वारा करने की व्यवस्था की गई है। पढ़ाई के बाद कौशल उन्नयन के लिए सीखो-कमाओ योजना संचालित है, जिसमें कौशल सीखने की अवधि में भी आजीविका के लिए स्टायपेंड की व्यवस्था है। हमारी सरकार युवाओं द्वारा स्व-रोजगार आरंभ करने के लिए बैंक गारंटी दे रही है। सरकार ने पढ़ाई से लेकर आजीविका तक की बेहतर व्यवस्था की है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चंद्रयान-3 की सफल लेंडिंग के लिए बधाई दी तथा प्रधानमंत्री श्री मोदी के सबका साथ- विकास के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए विकास और प्रगति के पथ पर साथ-साथ अग्रसर होने का संकल्प दिलाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आजीविका मिशन के स्व-सहायता समूहों, मुख्यमंत्री युवा अन्नदूत योजना के हितग्राहियों को हितलाभ तथा लाड़ली लक्ष्मी योजना के प्रमाण-पत्र और मुख्यमंत्री सीखो-कमाओ योजना के अनुबंध-पत्र वितरित किए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान के जबलपुर में ‘जनदर्शन’में अभूतपूर्व उत्साह और उमड़ा जन-सैलाब

आज जबलपुर में जनदर्शन के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान का जनसमूह ने पुष्पों की वर्षा कर आत्मीय स्वागत एवं सम्मान किया। जनदर्शन के पूरे मार्ग में पुष्प-वर्षा और भारत माता की जय तथा वंदेमातरम के घोष के बीच मुख्यमंत्री श्री चौहान का रथ आगे बढ़ता रहा। जनदर्शन में लोग घरों की छतों, स्वागत मंचों से पुष्प-वर्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री के स्वागत और सम्मान में बच्चे, युवाओं, महिलाओं के साथ ही बुजुर्ग भी समान रूप से उत्साहित थे। लाड़ली बहनों, हितग्राहियों ने विभिन्न जन-कल्याणकारी शासकीय योजनाओं के नाम और “धन्यवाद भैया” लिखी तख्तियाँ लहराकर मुख्यमंत्री का आभार प्रकट किया। विभिन्न सामाजिक संगठनों ने भी मुख्यमंत्री का स्वागत किया। जनदर्शन में सांसद श्री राकेश सिंह, विधायक श्री अशोक रोहाणी, पूर्व विधायक श्री अंचल सोनकर, श्री रानू तिवारी और अन्य जन-प्रतिनिधि मौजूद रहे।

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button