Madhya PradeshState
Trending

मंत्रालय में मुख्यमंत्री लोक सेवा 2.0 अभियान पर प्रस्तुति, जनसमस्याओं के सुधार की समीक्षा….

8 / 100

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 10 मई से प्रारंभ हुए मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान में राज्य स्तर पर 96.6 प्रतिशत प्रकरणों का निराकरण एक उल्लेखनीय उपलब्धि है। आमजन के विभिन्न लंबित कार्यों को 15 जुलाई तक पूर्ण किया जाये। सुशासन के मंत्र के रूप में यह अभियान चलाया गया। प्रशासनिक अमले के साथ जनसमस्याओं के सुधार की समीक्षा भी जिलों के प्रभारी मंत्रियों द्वारा निरंतर की जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अभियान में उत्कृष्ट कार्य करते हुए अधिक से अधिक आवेदनों का निराकरण करने वाले 5 जिलों रतलाम, देवास, शाजापुर, खरगोन और इंदौर के प्रशासनिक अमले और जनप्रतिनिधियों को बधाई भी दी. मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अभियान को सुचारू रूप से चलाने के लिये अन्य जिलों को बधाई देते हुए आम जनता के छोटे-छोटे कार्यों को नियमित रूप से समय सीमा में पूरा करने और सीएम लाइन की शिकायतों का तत्काल समाधान करने के निर्देश दिये.

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रालय में 10 मई से प्रारंभ हुए मुख्यमंत्री जन-सेवा अभियान 2.0 के तहत प्रकरणों के निराकरण की जानकारी प्राप्त कर समीक्षा की. मंत्रिपरिषद के सदस्य, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नागरिकों की विभिन्न समस्याओं को हमेशा गंभीरता से लिया जाना चाहिए। लोगों को न्याय दिलाने के लिए समस्या समाधान की प्रक्रिया निरंतर चलती रहनी चाहिए। अभियान के परिणाम अच्छे हैं, लेकिन इसे सही अर्थों में सफलता तभी माना जाएगा जब कोई काम न बचे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सुशासन का आधार यह है कि आम जनता का कार्य बिना किसी परेशानी के हो। चाहे वह जाति कार्ड जारी करना हो, सीमाओं का सीमांकन करना हो या बिल्डिंग परमिट टाइप का काम हो, यह एक समय सीमा के भीतर होना चाहिए।

नागरिकों के साथ टेलीफोन साक्षात्कार से प्राप्त सार्थक परिणाम

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि दो दिन पूर्व उन्होंने मुरैना, श्योपुर आदि जिलों के नागरिकों से फोन पर चर्चा कर उनकी समस्याओं की जानकारी ली. प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा नागरिकों की समस्याओं का त्वरित समाधान किया गया। नागरिकों के पास बिजली और पानी है, जैसा कि सी.सी. सड़क निर्माण एवं योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में उठाई गई समस्याओं का तत्काल निराकरण किया गया। प्रधानमंत्री जन विधि अभियान के साथ-साथ जनता की समस्याओं की जानकारी प्राप्त कर उनके निराकरण में सहयोगी बनना संभव है।

लाड़ली बहना योजना के स्वीकृति पत्रों का वितरण 01 जून से

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना के तहत प्रदेश में एक अरब 25 लाख से अधिक नर्सों का पंजीयन किया जा चुका है. एक जून से जिलों में पात्र नर्सों को स्वीकृति पत्र का वितरण रस्मी ढंग से किया जाए। ये काम एक सप्ताह तक जारी रहेंगे। जिम्मेदार मंत्री भी मौजूद रहें, जो अन्यत्र व्यस्तता होने पर वर्चुअली ज्वाइन कर सकें। नगरीय क्षेत्रों में नगरीय विकास एवं आवास विभाग तथा ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग इस कार्य में महिला एवं बाल विकास विभागों का सहयोग करें। इस कार्य में दीनदयाल समितियों के सदस्य, जन अभियान परिषद के सदस्य, जनप्रतिनिधि, सहकारी सामाजिक कार्यकर्ता आदि शामिल हों। 8 जून को लाडली बहना ग्राम सभा ग्रामीण क्षेत्रों में भी आयोजित की जाए। नर्सों के जीवन को बदलने वाले इस कार्यक्रम को देखकर खुशी और आनंद का अनुभव हुआ। इसे घरों में दीप जलाकर व्यक्त करना चाहिए। नर्सों के खातों में प्रायोगिक रूप से 1 रुपये की राशि स्थानांतरित करके खातों को लिंक करने के सत्यापन का कार्य भी पूरा किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाये। सोशल मीडिया के माध्यम से फोटो अपलोड करने जैसी प्रेरक और उत्साहवर्धक गतिविधियां भी की जा सकती हैं।

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button