Madhya PradeshState
Trending

प्रमुख सचिव विद्युत श्री दुबे बिजली व्यवस्था में निरंतर सुधार होना जरुरी……

8 / 100

प्राथमिकता उपभोक्ताओं की सभी श्रेणियों को बिजली की गुणवत्ता आपूर्ति, उपभोक्ता संतुष्टि, राजस्व संग्रह लक्ष्यों की उपलब्धि, पारदर्शिता और ऊर्जा लेखापरीक्षा है। लाइनमैन से लेकर चीफ इंजीनियर तक सभी अपनी जिम्मेदारी समझें और सकारात्मक परिणाम लाएं। यह बात प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री संजय दुबे ने सोमवार को जबलपुर स्थित बिजली कंपनी के मुख्यालय में एक दिवसीय मंथन सत्र में पूर्वी क्षेत्र वितरण कंपनी के अधिकारियों को संबोधित करते हुए कही.

मुख्य सचिव श्री दुबे ने निर्देश दिये कि उपभोक्ताओं का कार्य सिटीजन चार्टर के अनुरूप हो तथा समस्त औपचारिकताएं पूर्ण कर उपभोक्ताओं को 3 कार्य दिवस में कनेक्शन देना सुनिश्चित किया जाये. उन्होंने कहा कि प्रतिस्पर्धा के इस दौर में काम में धीरे-धीरे सुधार की जरूरत है। . श्री दुबे ने निर्देश दिये कि बिलिंग दक्षता 90 प्रतिशत से अधिक एवं 100 प्रतिशत संग्रहण दक्षता हो।

मुख्य सचिव श्री दुबे सी.एम. हेल्पलाइन की शिकायतों की जांच करते हुए उन शिकायतों का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण करने के निर्देश दिए। राजस्व बढ़ाने के निर्देश में कहा गया है कि उपभोक्ताओं को बेहतर और समय पर सुविधाएं मुहैया कराने के लिए बिजली व्यवस्था में निरंतर सुधार होना चाहिए. उन्होंने 2023-24 के लिए लक्ष्य निर्धारित करते हुए इन पर विस्तार से चर्चा भी की।

मुख्य सचिव ने कहा कि लोड अधिक होने पर कम क्षमता के ट्रांसफार्मर को उच्च क्षमता के ट्रांसफार्मर से बदलने की कार्ययोजना तैयार की जाए.

ऊर्जा सचिव एवं विद्युत वितरण कंपनियों के अध्यक्ष श्री रघुराज राजेंद्रन ने कहा कि बिजली चोरी रोकने के लिए कर्मचारियों को सतर्क रहने की आवश्यकता है. यदि ट्रांसफार्मरों का नियमित रखरखाव किया जाए तो उनके खराब होने की दर को कम किया जा सकता है। उन्होंने वितरण ट्रांसफार्मरों की प्रतिदिन मॉनीटरिंग करने के भी निर्देश दिये।

कंपनी की प्रगति रिपोर्ट पेश करते हुए पूर्वी क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री अनय द्विवेदी ने कहा कि आरडीएसएस योजना के तहत किए गए कार्यों से तकनीकी नुकसान में भारी कमी आएगी। उन्होंने कहा कि आरडीएसएस में नए सब स्टेशन तैयार किए जा रहे हैं। केबल लगाना, 11 और 33 केवी नई लाइन, बड़ी संख्या में ट्रांसफार्मर लगाना आदि महत्वपूर्ण कार्य होंगे। उन्होंने बताया कि अगले 3 वर्षों में भार में वृद्धि को देखते हुए कार्य किए जा रहे हैं। बैठक में विभाग के कर्मचारियों ने भाग लिया।

jeet

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button